जैसलमेर, 30 नवम्बर/महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारण्टी योजनान्तर्गत जिला कार्यक्रम समन्वयक एवं जिला कलक्टर नमित मेहता ने सिक्योर सॉफ्टवेयर के माध्यम से जिले के कुल 78 विभिन्न कार्यों के लिए पर 457.73 लाख धनराशि की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृतियाँ जारी की हैं।

महात्मा गांधी नरेगा के अतिरिक्त  जिला कार्यक्रम समन्वयक एवं जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी  ओमप्रकाश मेहरा ने बताया कि इनमें जिले की 3 पंचायत समितियों में व्यक्तिगत लाभार्थियों के लिए 64.32 लाख धनराशि के 43 कार्य, जल संरक्षण तथा श्रम नियोजन के लिए 301.82 लाख के 26 कार्य, ग्रामीण संयोजकता के लिए 81.64 लाख धनराशि के 8 कार्य राशि तथा श्मशान/कब्रिस्तान विकास के लिए 9.95 लाख की धनराशि का 1 कार्य स्वीकृत किया गया है।

341 कार्यों पर 2097.22 लाख की मंजूरी

उल्लेखनीय है कि जैसलमेर जिले में अब तक सिक्योर सॉफ्टवेयर के माध्यम से महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत कुल 341 कार्यों पर 2097.22 लाख धनराशि की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृतियां जारी की जा चुकी हैं। इनमें पंचायत समिति जैसलमेर में 144 कार्यों पर 854.73 राशि, पंचायत समिति सम में 100 कार्यों पर 547.71 लाख एवं पंचायत समिति सांकडा में 97 कार्यों पर  694.78 लाख की स्वीकृतियां जारी की जा चुकी हैं।

योजनान्तर्गत सिक्योर सॉफ्टवेयर के अतिरिक्त वन विभाग के 06 कार्यों पर 68.56 लाख एवं जल संसाधन विभाग के 03 कार्यों पर 2.80 लाख की वित्तीय स्वीकृति जारी की जा चुकी हैं। मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने बताया कि जिले की विभिन्न ग्राम पंचायतों में रोजगार एवं ग्रामीण क्षेत्र के विकास की आवश्यकताओं के मद्देनज़र विकास अधिकारियों के माध्यम से अन्य और कार्याें के प्रस्ताव भी मंगवाये जा रहे हैं ताकि जरूरत के अनुसार अधिकाधिक स्वीकृतियां जारी की जा सकें।