टोक्यो, 6 अगस्त । जापान ने हिरोशिमा पर हुए परमाणु हमले की 75वीं वर्षगांठ गुरुवार को मनाई। इस मौके पर शहर के महापौर ने पूरी दुनिया से मानवता के लिए खतरों के खिलाफ एकजुट होने का आग्रह किया, जिसमें परमाणु हथियारों से होने वाला खतरा भी शामिल है।

हिरोशिमा के मेयर काजुमी मैत्सुई ने कहा कि देशों को अपने आपसी मतभेदों को अलग रखकर मानव निर्मित और प्राकृतिक चुनौतियों को दूर करने के लिए एक साथ आना चाहिए।

सिन्हुआ की खबर के अनुसार, पीस मेमोरियल पार्क में हुए वार्षिक समारोह में मैत्सुई ने कहा, नागरिकों को स्व-केंद्रित राष्ट्रवाद को खारिज करना चाहिए और सभी खतरों के खिलाफ एकजुट होना चाहिए।

कोविड-19 संक्रमण को देखते हुए इस कार्यक्रम को छोटे रूप में आयोजित किया गया था।

सुबह 8.15 बजे (स्थानीय समय) प्रधानमंत्री शिंजो आबे समेत यहां उपस्थित सभी लोगों ने एक मिनट का मौन रखा, यह वह समय था जब 6 अगस्त 1945 को अमेरिकी बमवर्षकों ने हिरोशिमा पर यूरेनियम-कोर परमाणु बम लिटिल बॉय गिराया था।

1945 के अंत तक इस बम ने लगभग 1.4 लाख लोगों की जान ले ली थी।

इस मौके पर जापानी पीएम ने कहा, प्रत्येक देश को गंभीर सुरक्षा वातावरण और परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए राष्ट्रों के बीच मतभेदों को दूर करने के लिए प्रयासों को आगे बढ़ाना चाहिए।

–आईएएनएस