बंगबंधु की हत्या के पीछे मुक्ति-विरोधी ताकतें : शेख हसीना

बंगबंधु-की-हत्या-के-पीछे-मुक्ति-विरोधी-ताकतें-:-शेख-हसीना

ढाका, 2 अगस्त (एजेंसी)। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने रविवार को देशवासियों से राष्ट्रपिता बंगबंधु शेख मुजीबुररहमान की हत्या को याद करने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि 1975 में बंगबंधु की हत्या की साजिश के पीछे मुक्ति-विरोधी ताकतों हाथ था।

प्रधानमंत्री ने कहा, राष्ट्रपिता बंगबंधु शेख मुजीबुररहमान ने हमें स्वतंत्रता दी। लेकिन, जो लोग बांग्लादेश की स्वतंत्रता के खिलाफ थे और वे इस पर विश्वास भी नहीं करते थे और जिन्होंने देश के अंदर और बाहर से स्वतंत्रता संग्राम का समर्थन नहीं किया, उन्होंने बंहबंधु को साजिशों के माध्यम से बेरहमी से मार डाला।

अवामी लीग की अध्यक्ष शेख हसीना, शेख मुजीबुररहमानकी बड़ी बेटी हैं। उन्होंने कहा कि वह और उनकी छोटी बहन 15 अगस्त के हत्याकांड से इसलिए बच गईं क्योंकि वे उस समय विदेश में थीं।

प्रधानमंत्री ने रविवार सुबह शहर में अवामी लीग की किसान शाखा बीकेएल द्वारा आयोजित स्वैच्छिक रक्तदान कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए यह बात कही। उन्होंने मोबाइल फोन के माध्यम से कार्यक्रम को संबोधित किया।

बीकेएल ने अवामी लीग और उसके सहयोगी संगठनों के महीने भर चलने वाले कार्यक्रम के भाग के रूप में धानमंडी-32 में बंगबंधु मेमोरियल संग्रहालय के सामने स्वैच्छिक रक्तदान कार्यक्रम और परिचर्चा का आयोजन किया। राष्ट्रपिता बंगबंधु की 45 साल पहले हुई शहादत की याद में महीने भर तक कार्यक्रमों का आयोजन होना है।

प्रधानमंत्री ने अपनी पार्टी के सदस्यों से कहा, हम बांग्लादेश को भूख व गरीबी से मुक्त एक समृद्ध देश बनाकर राष्ट्रपिता के सपनों को साकार कर सकते हैं।

–आईएएनएस

मोबाइल पे ताजा समाचार पढ़ें फेसबुक पेज लाइक करें: ट्वीटर पे फॉलो करें: