एनआरएआई के कैम्प से अनिवार्य शब्द हटवाना चाहते हैं निशानेबाज

एनआरएआई-के-कैम्प-से-अनिवार्य-शब्द-हटवाना-चाहते-हैं-निशानेबाज

कोलकाता, 16 जुलाई (एजेंसी)। भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) को ओलम्पिक निशानेबाजों के लिए अपने नेशनल कैम्प में से अनिवार्य शब्द को हटाना पड़ सकता है क्योंकि कई निशानेबाज कोविड-19 की मौजूदा स्थिति को देखते हुए यातायात को लेकर सुनिश्चित नहीं हैं।

एनआरएआई ने मंगलवार को कहा था कि वह एक अगस्त से कैम्प शुरू कर रही है और कैम्प के लिए चुने गए 32 खिलाड़ियों को इस कैम्प में आना अनिवार्य है।

एनआरएआई ने कहा कि वह इस कैम्प को बायो सिक्योर वातावरण में करा रही है, लेकिन कई निशानेबाजों ने इस पर आपत्ति जताई है।

एक निशानेबाज ने नाम नहीं जाहिर करने की शर्त पर आईएएनएस को बताया, हमें इस संबंध में कोई आधिकारिक मेल या जानकारी नहीं मिली है। अगर सभी सुरक्षा नियमों के होने के बाद भी अगर कोई कोविड-19 से संक्रमित निकल गया तो क्या कोई जिम्मेदारी लेगा।

उन्होंने कहा, दिल्ली के लिए सफर करना अलग बात है, कई चीजों का ख्याल रखना होगा। उन्हें पहले घरेलू कैलेंडर जारी करना चाहिए और फिर कैम्प को लेकर फैसला हमें करना चाहिए था। खैर, हम सभी घर में ट्रेनिंग कर रहे हैं इसलिए यह मुद्दा नहीं है।

एक अन्य निशानेबाज ने कहा कि एनआरएआई इसे कुछ दिनों बाद वैकल्पिक कर देगी।

उन्होंने कहा, कई ऐसे निशानेबाज हैं जो दिल्ली के पास ही रहते हैं लेकिन हम जैसे कई हैं जिनको दिल्ली जाने के लिए एक-दो फ्लाइट बदलनी पड़ती है। यह इस समय जोखिम भरा है। रेंज में हमारा ध्यान रखा जाएगा, मुझे इस पर पूरा भरोसा है लेकिन सफर करने वाला हिस्सा चिंताजनक है।

कुछ निशानेबाजों ने कहा कि प्रशिक्षक एनआरएआई से बात कर रहे हैं और कैम्प के लिए अनिवार्य शब्द हटाने को लेकर कह रहे हैं।

उन्होंने कहा, सभी स्वास्थ और सुरक्ष उपायों को लागू किया जाता है तो मैं तैयार हूं, लेकिन मुझे अभी तक जानकारी नहीं मिली है।

–आईएएनएस

For the latest news like The Jaisalmer News page on Facebook, & Twitter.

मोबाइल पे ताजा समाचार पढ़ें फेसबुक पेज लाइक करें: ट्वीटर पे फॉलो करें: