Jaisalmer News:उपखण्ड फतेहगढ के लखा गांव में आबादी भूमि पर बनाये मकानों के रास्ते गोचर भूमि में अतिक्रमण कर कई मकानों के रास्ते भूमाफियों ने रोक दिए।

लोगो के आने जाने के रास्ते हुए बन्द

गौचर भूमि पर अतिक्रमण होने के बाद आबादी भूमि में आबाद ग्रामीणों के लिए अतिक्रमण आफत बन गया। गोचर भूमि में आबादी के अंतिम छोर पर बने घरों के लिए रास्ते भी बन्द हो गए।

ग्रामीण मांगू सिंह सांखला ने जानकारी देते हुए कहा कि में पिछले सात दिनों से तहसील के एवं पंचायत समिति के चक्कर काट रहा हूं लेकिन अधिकारियों द्वारा उस बाबू के इस बाबू वाली बात कहकर मामला ढकने का प्रयास हो रहा है।

नायब तहसीलदार के नोटिस के बाद भी नही हटा अतिक्रमण तो ग्रामीणों ने सौपा जिला कलेक्टर को ज्ञापन

गत एक सितंबर को तहसीलदार फतेहगढ द्वारा ग्रामीणों की ओर से शिकायत प्राप्त होने के बाद नायब तहसीलदार झिझनियाली को आदेशित किया था। मौका रिपोर्ट पर उक्त अतिक्रमण गोचर एवं आगोर भूमि में पाया गया नायब तहसीलदार द्वारा जांच में अतिक्रमण तीन दिन में हटाने की भी बात कही गई लेकिन सात दिन बीत जाने बाद जब कार्यवाही नही हुई तो ग्रामीण जिला कलेक्टर के पास परिवाद लेकर पहुंचे।

ग्रामीणों ने विकास अधिकारी पंचायत समिति सम एवं तहसीलदार फतेहगढ पर भूमाफियों के साथ सांठ गांठ होने के आरोप लगाते हुए ज्ञापन सौपा।