कतर में होने वाला विश्व कप-2022 हर लिहाज से शानदार होगा : फॉलर

कतर-में-होने-वाला-विश्व-कप-2022-हर-लिहाज-से-शानदार-होगा-:-फॉलर

दोहा, 13 जनवरी । लिवरपूल के पूर्व स्ट्राइकर रोबी फॉलर फुटबाल के उन सितारों में से एक हैं, जो कतर में साल 2022 में होने वाले फीफा विश्व कप का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। कतर ने एशिया में दूसरी बार और मध्य-पूर्व में पहली बार होने जा रहे इस आयोजन के लिए अत्याधुनिक तकनीक और विश्व स्तरीय सुविधाओं से लैस शानदार स्टेडियम तैयार किए हैं, जो अभी से ही फुटबाल प्रेमियों को आकर्षित करने लगे हैं।

कतर ने विश्व कप के लिए आठ स्टेडियम तैयार करने की प्लानिंग की थी और इनमें से चार का उद्घाटन भी किया जा चुका है। शेष पर तेजी से काम जारी है। इन स्टेडियमों के माध्यम से कतर प्रशंसकों के लिए शानदार अनुभव का वादा कर रहा है।

रोचक बात यह है कि 2022 विश्व कप कतर कोरोना महामारी के बाद आयोजित होने वाले प्रमुख खेल आयोजनों में से एक होगा। कतर विश्व कप कई लिहाज से अनूठा और अद्वितीय होगा और फालर भी मानते हैं कि यह खिलाड़ियों और फैन्स के लिहाज से एक शानदार आयोजन होगा।

इंडियन सुपर लीग (ISL) में एससी ईस्ट बंगाल को कोचिंग दे रहे फॉलर ने कहा, मैं असल में मानता हूं कि कतर में होने वाला विश्व कप शानदार होगा।

हमेशा से ही कतर के कई आलोचक रहे हैं, फॉलर मानते हैं कि मध्य पूर्व का यह देश दो साल से भी कम समय में होने वाले विश्व कप का शानदार आयोजन कर अपने सभी आलोचकों को चुप करा देगा।

फॉलर ने कहा, हर किसी की निगाह उन पर है। लोग चाहेंगे कि वे नाकाम हों लेकिन मैं नहीं मानता कि वे फेल होंगे। मैं समझता हूं कि वे एक महान आयोजन करेंगे और इस विश्व कप के एक न भूलने वाले अनुभव बनाएंगे। साथ ही वे कई लोगों को गलत साबित करेंगे।

इंग्लैंड के 26 इंटरनेशनल मैच खेलने वाले लिवरपूल एफसी के महान खिलाड़ी फॉलर विश्व कप के रोमांच और इसकी चकाचौंध से अपरिचित नहीं हैं। वह साल 2002 में एशिया में पहली बार आयोजित फीफा विश्व कप में इंग्लिश टीम का हिस्सा थे, जो कि क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रही थी।

फॉलर मानते हैं कि इंग्लैंड की टीम काफी सुधर गई है और अभी वह यूरोप की श्रेष्ठ फुटबाल टीमों में से एक है। ऐसे में जबकि एशिया में होने वाला दूसरा फीफा विश्व कप करीब है, 45 साल के फालर मानते हैं कि थ्री लायंस नाम से मशहूर इंग्लैंड टीम दोहा में शानदार प्रदर्शन करेगी।

फॉलर ने कहा, पेपर पर इंग्लैंड हमेशा अच्छी टीम होती है। लेकिन हर बार चिंता का एक कारण रहता है क्योंकि दूसरी भी टीमें अच्छी हैं और अच्छी तैयारी के साथ आती हैं। कभी-कभी आप कहते हैं कि यूरोप की दूसरी टीमें अच्छी हैं। यह हमेशा होता है। इंग्लैंड की टीम के पास कुछ क्वालिटी खिलाड़ी हैं और इसीलिए इसे अच्छी टीम की कटेगरी में रख सकता हूं।

फॉलर ने कहा कि 2017 में भारत में आयोजित यू-17 फीफा विश्व कप में इंग्लैंड की टीम ने खिताब जीता था और उस टीम के कई खिलाड़ी आज इंग्लैंड की सीनियर टीम में जगह बनाने में सफल रहे हैं। इन खिलाड़ियों में फिल फोडेन, कैलम हडसन-ओडोई और जेडन सांचो शामिल हैं।

फॉलर ने कहा, आप अगर 2017 में जाएं और देखें कि भारत में आयोजित यू17 विश्व कप, जिसे इंग्लैंड ने जीता था, उस टीम से कई यू21 टीम में गए, कई प्रीमियर लीग में गए और कइयों ने राष्ट्रीय टीम में जगह बनाई। ऐसे में इंग्लैंड के पास अच्छा करने का हमेशा स्कोप होता है। हमने हमेशा माना है कि हम टूर्नामेंट्स में अच्छा प्रदर्शन करेंगे।

फॉलर मानते हैं कि 2018 विश्व कप में सेमीफाइनल खेलने वाली इंग्लिश टीम कतर में अच्छा प्रदर्शन करने को लेकर ²ढ़संकल्प है। उसके पास मार्कस रैशफोर्ड, रहीम स्टलिर्ंग और हैरी केन जैसे खिलाड़ी हैं, जो टीम का नेतृत्व करेंगे और इस लिहाज से 2022 विश्व कप इंग्लैंड के फैन्स के लिए काफी रोमांचक होगा।

फॉलर ने कहा, वैसे यहां यह ध्यान रखना भी जरूरी है कि दूसरी कई एसी टीमें भी हैं, जो यह मानती हैं कि वे भी दूसरों की तरह अच्छी हैं। एसे में फुटबाल में हमेशा एक रोमांच बना रहता है। हम सभी चाहते हैं कि हमारी टीम जीते लेकिन विजेता तो एक ही होगा। आप जीतने के लिए मेहनत करते हैं लेकिन जीतती वही टीम है, जिसके खिलाड़ी थोड़ी अधिक मेहनत करते हैं। हर राष्ट्रीय टीम में शानदार प्रतिभाएं हैं और सभी टीमें थोड़ा अधिक चाहती हैं। अब यह इंग्लैंड पर निर्भर है कि वह दुनिया को दिखाए कि वह कितना अधिक चाहता है। यह कठिन होगा क्योंकि दूसरी टीमें ठीक उसी समय पर बिल्कुल ऐसा ही कर रही होंगी।

–आईएएनएस

ईजेडए-एसकेपी