ISL-7 : फातोर्दा में गोवा और जमशेदपुर के बीच होगी कड़ी टक्कर (प्रीव्यू)

ISL-7-:-फातोर्दा-में-गोवा-और-जमशेदपुर-के-बीच-होगी-कड़ी-टक्कर-(प्रीव्यू)

फातोर्दा(गोवा), 13 जनवरी । एफसी गोवा हीरो इंडियन सुपर लीग (ISL) के सातवें सीजन की अंकतालिका में 15 अंकों के साथ चौथे नंबर पर है। लेकिन टीम अभी भी टेबल टॉपर मुंबई सिटी एफसी से 10 अंक पीछे है और उसे अभी 10 मैच और खेलने हैं।

गोवा के कोच जुआन फेरांडो एक समय में एक ही मैच पर ध्यान देना चाहते हैं और इसी क्रम में अब टीम को अपना अगला मुकाबला गुरुवार को यहां फातोर्दा के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में जमशेदपुर एफसी के खिलाफ खेलना है।

गोवा ने पिछले सीजन में टॉप पर रहते हुए सीजन का समापन किया था। लेकिन इस साल कई मैचों में बेहतर प्रदर्शन के बावजूद टीम अपनी इच्छानुसार परिणाम हासिल करने के संघर्ष कर रही है।

फेरांडो ने कहा, हमारा लक्ष्य प्रत्येक दिन तीन अंक हासिल करने पर होता है। बेशक, 50 अंक हासिल करना और सभी मैच जीतना मेरा सपना है। हम पूरी तरह से खुश हैं, लेकिन अब हमारे लिए यह जरूरी है कि हम एक समय पर एक ही मैच पर ध्यान दें। फुटबॉल में प्रत्येक मैच मायने रखता है। हमें एक समय पर एक ही मैच पर ध्यान केंद्रित करना होगा और अगला मुकाबला भी हमारे लिए महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा, यह (जमशेदपुर) एक अच्छी टीम है और उसमें बहुत अच्छे खिलाड़ी हैं। हमारे लिए, यह एक नया चैप्टर है और हम हर दिन डिफेंस और अटैकिंग में बेहतर काम कर रहे हैं। हम जमशेदपुर के खिलाफ पिछली गलतियों को नहीं दोहराएंगे।

जमशेदपुर के नेरिजुस व्लास्किस ने इस सीजन में टीम के 12 गोल में से आठ गोल खुद ही किए हैं। लेकिन फेरांडो केवल एक ही खिलाड़ी पर ध्यान देने के बजाय पूरी टीम के खिलाफ प्लान बनाना चाहते हैं।

उन्होंने कहा, मुझे अपनी टीम पर विश्वास है और मैं अपने खिलाड़ियों पर विश्वास करता हूं। हमारे लिए, एक टीम के रूप में खेलना और एक टीम के खिलाफ योजना तैयार करना अधिक महत्वपूर्ण है।

जमशेदपुर के कोच ओवेन कॉयले इस बात से अच्छी तरह से अवगत हैं कि वे एफसी गोवा के खिलाफ कोई गलती नहीं कर सकते हैं।

कॉयले ने कहा, हमें व्यक्तिगत गलतियों को सुधारकर आगे बढ़ना है और सुधार जारी रखना है। यह हमें एफसी गोवा के खिलाफ करना होगा, जोकि बहुत अच्छी टीम है। हमें कड़ी मेहनत जारी रखनी है।

उन्होंने कहा, गोवा में एक बहुत अच्छा कोच और कुछ शानदार खिलाड़ी हैं और जिस शैली में वे कई साल से खेल रहे हैं, उसने अपनी प्रगति जारी रखी है। इसका सारा श्रेय उन्हें जाता है। हम उनकी ताकत जानते हैं, हम उनकी कमजोरी जानते हैं और अब हमें अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा।

–आईएएनएस

ईजेडए/एसजीके