Nikay Chunav 2019

Jaisalmer Local Body Election Result 2019

Jaisalmer Nagar Parishad Election 2019 Final Result

Jaisalmer Nikay Chuanv 2019 Result

#Jaisalmer: जैसलमेर नगर परिषद चुनाव 2019 की मतगणना का कार्य मंगलवार सुबह तय समय पर शुरू हुवा पूरा जैसलमेर शहर सोशल मीडिया के जरिये नतीजो पर नजर बनाये हुवे था.

पौने दस बजे तक जैसलमेर नगर परिषद के 45 वार्डों में मतगणना कार्य पूरा होकर नतीजे आ गए है जो इस प्रकार है.

जैसलमेर नगर परिषद चुनाव परिणाम | Jaisalmer Nagar Parishad Election Result

 वार्ड 1 - कांग्रेस - निर्मल पुरोहित
 वार्ड 2 - बीजेपी-  राज कंवर
 वार्ड 3 - बीजेपी - चरण सिंह
 वार्ड 4 - कांग्रेस - खींव सिंह
 वार्ड 5 - बीजेपी - पुरखाराम
 वार्ड 6 - बीजेपी - मोतीलाल
 वार्ड 7 - बीजेपी - अशोक राम
 वार्ड 8 - निर्दलीय - सकीना
 वार्ड 9 - कांग्रेस - प्रकाश
 वार्ड 10 - बीजेपी - गिरधर सिंह
 वार्ड 11 - निर्दलीय - देवी सिंह
 वार्ड 12 - बीजेपी - शांति
 वार्ड 13 - कांग्रेस - कमलेश छंगाणी
 वार्ड 14 - बीजेपी- गोमती देवी
 वार्ड 15 - बीजेपी - सरला शर्मा
 वार्ड 16 - बीजेपी - सीमा गोपा
 वार्ड 17 - कांग्रेस - नेहा व्यास
 वार्ड 18 -कांग्रेस - दुर्गा देवी
 वार्ड 19- कांग्रेस - सोढ़ी खातून
 वार्ड 21 - बीजेपी - गोपाराम
 वार्ड 22 - कांग्रेस - कैलाश कुमार
 वार्ड 23 - कांग्रेस - सुमार खान
 वार्ड 24 - कांग्रेस- प्रवीण सुदा
 वार्ड 25 - बीजेपी - अरुण शर्मा
 वार्ड 26 - कांग्रेस - मृणाली जोशी -
 वार्ड 27 - कांग्रेस - फिरदौश
 वार्ड 28 -कांग्रेस - उपदेश कुमार
 वार्ड 29- कांग्रेस - घनश्याम राम
 वार्ड 30 - कांग्रेस- रूखी
 वार्ड 31- बीजेपी - पारस गर्ग
 वार्ड 32 - बीजेपी - प्रवीण
 वार्ड 33 - बीजेपी - ओमप्रकाश
 वार्ड 34 -कांग्रेस - सिकंदर खान
 वार्ड 35- बीजेपी - नरेंद्र कुमार
 वार्ड 36 -कांग्रेस - लीलाधर
 वार्ड 37- कांग्रेस - चंचल व्यास
 वार्ड 38- कांग्रेस - दुर्गेश आचार्य
 वार्ड 39 - निर्दलीय - ममता
 वार्ड 40- बीजेपी - पुष्पा कंवर
 वार्ड 41 - कांग्रेस - प्रेम कंवर
 वार्ड 42 - बीजेपी - विक्रम सिंह
 वार्ड 43 - बीजेपी - नरसिंह ओड
 वार्ड 44 -बीजेपी - जगदान
 वार्ड 45- निर्दलीय - पिंकू कंवर

जैसलमेर नगर परिषद में कांग्रेस ने सबसे ज्यादा 45 में से 21, बीजेपी ने 20 व निर्दलीय ने 4 सीटो पर जीत दर्ज की है. अब दोनों दलों की तरफ से अपने विजयो पार्षदों को हॉर्स ट्रेडिंग से बचाने के लिए बाडेबंदी की जा रही है.

दोनों दलों में से किसी को भी स्पष्ट बहुमत नहीं आने की वजह से निर्दलीय जीतने वालों पर बीजेपी और कांग्रेस की नजर टिकी है, जैसलमेर नगर परिषद का सभापति बनाने के लिए कांग्रेस को दो और बीजेपी को तीन निर्दलीय पार्षदों की जरूरत रहेगी.