लखनऊ। उत्तर प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा (Shrikant Sharma) ने कहा कि गलत बिल बनाने वाली लापरवाह बिलिंग एजेंसियों के खिलाफ एफआईआर होनी चाहिए।

ऊर्जा मंत्री श्रीकान्त शर्मा बुधवार को जालौन, झांसी, कन्नौज, कानपुर देहात, कानपुर, कासगंज, ललितपुर, महोबा व मैनपुरी के सर्वाधिक लाइन लॉस वाले शहरी व ग्रामीण उपकेंद्रों में लाइन हानियां कम करने के अभियान की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने निर्देश दिया कि सभी उपभोक्ताओं को सही व समय पर बिल मिलने चाहिए। साथ ही कहा कि गलत बिल बनाने वाली बिलिंग एजेंसियों के खिलाफ एफआईआर की जानी चाहिए।

शर्मा ने सभी अधीक्षण अभियंताओं को स्पष्ट निर्देश दिया कि कहीं भी उपभोक्ता को बिजली के काम के लिए भटकना न पड़े। बिल न आने, गलत बिल की शिकायतों का निस्तारण तत्काल कराने को कहा। साथ ही टेबल बिलिंग की शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए लापरवाह एजेंसियों की जवाबदेही तय करते हुए कार्रवाई के निर्देश भी दिए। ट्रांसफार्मरों के फुंकने व उन्हें समय से न लगाए जाने की शिकायतों को भी उन्होंने गंभीरता से लेने व जवाबदेही सुनिश्चित करने को कहा।

उन्होंने ट्रांसफार्मरों की लोड बैलेंसिंग न करने, उनके फुंकने के कारणों की सही जानकारी न दे पाने व लक्ष्यपूर्ति में लापरवाही पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि लापरवाही से ईमानदार उपभोक्ता को नुकसान उठाना पड़ रहा है।

–आईएएनएस

विकेटी/एएनएम