Sushant Singh Rajput Suicide Case। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) को सीबीआई (CBI) द्वारा दर्ज एफआईआर में एक अभियुक्त के रूप में नामित किया गया है।

केंद्र द्वारा एजेंसी को बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच करने के लिए कहने के एक दिन बाद, केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने गुरुवार को एफआईआर के आधार पर रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार के सदस्यों सहित छह लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया।

यह एफआईआर सुशांत के परिजनों की शिकायत पर बिहार पुलिस द्वारा दर्ज किए गए मामले के आधार पर की गई है।

सीबीआई ने रिया, उनके पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती, मां संध्या चक्रवर्ती, भाई शोविक चक्रवर्ती, सुशांत के घर के मैनेजर सैमुअल मिरांडा, श्रुति मोदी और अन्य को नामजद किया है।

रिया चक्रवर्ती और अन्य के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने, आपराधिक षड्यंत्र रचने, चोरी, धोखाधड़ी और धमकी देने समेत भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

सीबीआई के एक प्रवक्ता ने कहा कि एजेंसी ने बिहार सरकार के अनुरोध और केंद्र सरकार की अधिसूचना के बाद मामला दर्ज किया है। उन्होंने कहा कि एजेंसी ने पटना के राजीव नगर पुलिस स्टेशन में दर्ज बिहार पुलिस के मामले को अपने हाथ में ले लिया है और जांच की जा रही है।

अधिकारी ने कहा कि बिहार पुलिस की प्राथमिकी छह आरोपियों और अन्य के खिलाफ दर्ज की गई थी।

सीबीआई ने मामले को अपनी विशेष जांच टीम (एसआईटी) शाखा को सौंप दिया है, जिसने पहले हाई प्रोफाइल मामलों जैसे 3,600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर सौदे और शराब कारोबारी विजय माल्या के धोखाधड़ी मामले की जांच की थी।

डीआईजी गगनदीप गंभीर के अधीन पर्यवेक्षण अधिकारी के रूप में एसआईटी सदस्य पुलिस अधीक्षक नूपुर प्रसाद भी अवैध खनन मामले में समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव की कथित भूमिका की जांच कर रही हैं। वह वर्तमान में सृजन घोटाले और पत्रकार उपेंद्र राय मामले को भी संभाल रही हैं।

सीबीआई के संयुक्त निदेशक मनोज श्रीधर जांच की अगुवाई करेंगे।

कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग द्वारा एक अधिसूचना जारी करने के एक दिन बाद, केंद्रीय जांच एजेंसी के लिए सुशांत की मौत के संबंध में मामला दर्ज करने का मार्ग प्रशस्त होने के बाद यह कार्रवाई की गई है।

सुशांत को 14 जून को मुंबई के बांद्रा में अपने फ्लैट में मृत पाया गया था। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सुशांत के पिता के. के. सिंह के अनुरोध पर मंगलवार को इस मामले को सीबीआई को सौंपने की सिफारिश की थी। इसके अलावा अन्य कई राजनीतिक नेताओं ने भी सुशांत की मौत की सीबीआई जांच की मांग की है।

के. के. सिंह की शिकायत पर बिहार पुलिस ने 25 जुलाई को रिया के खिलाफ मामला दर्ज किया था। सुशांत के पिता ने पटना में रिया के खिलाफ धोखाधड़ी और उनके बेटे को धमकी देने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई थी। सुशांत के परिवार ने रिया पर सुशांत को उनसे दूर रखने का भी आरोप लगाया है।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी पटना पुलिस की प्राथमिकी के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग जांच शुरू की है और शुक्रवार को पूछताछ के लिए रिया को तलब किया है।

इससे पहले, मामले में बिहार पुलिस द्वारा जांच के मुद्दे पर महाराष्ट्र और बिहार सरकारों के बीच एक मौखिक द्वंद्व देखने को मिला था।

–आईएएनएस