शी चिनफिंग ने ग्रामीण पुनरुत्थान पर जोर दिया

शी-चिनफिंग-ने-ग्रामीण-पुनरुत्थान-पर-जोर-दिया

बीजिंग, 30 दिसंबर । China की केंद्रीय ग्रामीण कार्य बैठक 28 से 29 दिसंबर तक पेइचिंग में आयोजित हुई। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने इसमें भाग लिया और महत्वपूर्ण भाषण दिया। उन्होंने ग्रामीण पुनरुत्थान पर जोर लगाकर कृषि की गुणवत्ता तथा कुशलता, गांवों के अच्छे रहन-सहन और किसानों की समृद्धि बढ़ाने की मांग की।

शी चिनफिंग ने कहा कि 18वीं सीपीसी कांग्रेस से सीपीसी केंद्रीय कमेटी ने कृषि, गांवों और किसानों के सवालों को पार्टी के कार्यों में प्राथमिकता देकर मानव इतिहास में सबसे बड़े पैमाने वाला गरीबी उन्मूलन अभियान चलाया और ऐतिहासिक उपलब्धियां हासिल कीं। किसानों की आय वर्ष 2010 से 2 गुना से अधिक हो चुकी है और ग्रामीण क्षेत्रों में कायापलट हुआ है ।

शी चिनफिंग ने बल दिया कि चीनी राष्ट्र के पुनरुत्थान के लिए ग्रामीण पुनरुत्थान पूरा करना होगा। गरीबी उन्मूलन में विजय पाने के बाद चौतरफा तौर पर ग्रामीण पुनरुत्थान बढ़ाया जाएगा। सीपीसी केंद्रीय कमेटी ने फैसला किया है कि गरीबी उन्मूलन का कार्य पूरा करने के बाद गरीबी से छुटकारा पाने वाली काउंटियों के लिए पांच साल का संक्रमण काल स्थापित किया जाएगा। इस दौरान मुख्य समर्थन नीतियां बनी रहेंगी।

शी चिनफिंग ने कहा कि China अनाज सुरक्षा को मजबूत करेगा और 180 करोड़ मू (एक मू लगभग 0.067 हेक्टेयर के बराबर) खेती की रेड लाइन का सख्त पालन करेगा और सबसे कड़ी खेती सुरक्षा व्यवस्था लागू करेगा।

(साभार – चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

— आईएएनएस