Jaisalmer - Ratri Chopal Didaniya
Jaisalmer - Ratri Chopal Didaniya

जैसलमेर, 30 नवम्बर/जैसलमेर जिले की सांकड़ा पंचायत समिति अन्तर्गत डिडानिया ग्राम पंचायत मुख्यालय पर भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केन्द्र में शुक्रवार रात आयोजित जिला कलक्टर नमित मेहता की रात्रि चौपाल ग्रामीणों की कई समस्याओं के हाथों-हाथ समाधान भरी रही और अर्से से चली आ रही समस्याओं के समाधान की कार्यवाही का सुकून पाकर ग्रामीण खुश हो उठे। ग्रामीणों ने छह साल में पहली बार जिला कलक्टर के डिडानिया पहुंचने पर स्वागत किया।

रात्रि चौपाल में जिला कलक्टर के साथ ही जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश, उपखण्ड अधिकारी अजय अमरावत, सहायक निदेशक (लोक सेवाएं) भारत भूषण गोयल, सरपंच गुड्डी माली सहित ब्लॉक एवं उपखण्ड स्तरीय अधिकारियों के साथ ही विभिन्न विभागों के जिलास्तरीय अधिकारीगण और ग्राम्य जन प्रतिनिधिगण उपस्थित थे। चौपाल में प्रमुख रूप से पानी, बिजली और आवागमन से संबंधित समस्याएं अधिक आयी।

हर समस्या को सुना, दिए समाधान के निर्देश

जिला कलक्टर ने डिडानिया तथा आस-पास के गांवों और ढाणियों से बड़ी संख्या में मौजूद ग्रामीणों की समस्याओं को तसल्ली से सुना तथा एक-एक समस्या के बारे में संबंधित विभागों के अधिकारियों से वस्तुस्थिति की जानकारी ली तथा समस्या निराकरण के लिए समयबद्ध कार्यवाही के निर्देश दिए।

कई समस्याओं पर विभागीय अधिकारियों से पहले ही कार्यवाही सुनिश्चित करने के बारे मेें अवगत करा दिया। ढेरों समस्याओं के बारे में ग्रामीणों को जिला कलक्टर ने बताया कि इनके संबंध में संबंधित विभागों ने तय समय सीमा में समस्या दूर करने का प्रबन्ध कर दिया है और इससे ग्रामीणों को राहत प्राप्त होगी।

ग्राम्य समस्याओं के निराकरण के प्रति रहें गंभीर

चौपाल में मुख्य रूप से बिजली, पानी, सड़क, खेती-बाड़ी आदि से जुड़ी समस्याएं आयी जिन पर जिला कलक्टर ने निर्णायक समाधान के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए। इस दौरान सौभाग्य योजना में बिजली कनेक्शन देने, अधिक लोड वाले क्षेत्रों में बिजली लोड चैक कराने तथा आवश्यकता होने पर बड़ा ट्रांसफॉर्मर लगाने, बिजली के ढीले तारों को ठीक करने,ज्यादा बिल आने की शिकायतों की जांच करने, आवश्यकता वाले स्थानों पर बिजली कनेक्शन के लिए फार्म जमा करवाकर डिमाण्ड जारी करने के निर्देश दिए।

पेयजल समस्या का निवारण करें

जिला कलक्टर ने एक सप्ताह में बिजली से संबंधित समस्याओं के समाधान की कार्यवाही सुनिश्चित करने को कहा। जिन इलाकों में अधिक जल संकट है वहां पानी परिवहन करने,पाईप लाईन ठीक कर पानी पहुंचाने, हैण्डपंप व ट्यूब वैल की संभावनाएं तलाशकर काम शुरू करने, ढाणियों में पानी पहुंचाकर जल समस्या का समाधान करने, पशुओं के लिए पानी की समस्या को दूर करने, विभिन्न ढाणियों में क्षतिग्रस्त पाईप लाईन ठीक करने, पोकरण आय पास से धुड़सर तक सम्पर्क सड़क बनाने, स्कूल क्रमोन्नयन करने आदि के प्रस्ताव लेने आदि के निर्देश दिए।

ग्राम्य विकास के प्रस्ताव तैयार करें

जिला कलक्टर ने अधिकारियों से कहा कि ग्रामीण विकास के जो भी जरूरी काम ग्रामीणों द्वारा चाहे जाएं उनके बारे में प्रस्ताव तैयार कर विभागीय मुख्यालय को भिजवाएं। ग्रामीणों की मांग पर जिला कलक्टर ने डेडानिया में सप्ताह में एक बार पशु चिकित्सक की सुविधा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। ग्रामीणों ने सतासर में एएनएम की मांग की तथा डिडानिया में उपयुक्त चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने, विभिन्न क्षेत्रों में सार्वजनिक शौचालय एवं टांका निर्माण कराने का आग्रह किया।

आनलाईन करें आवेदन

जिला कलक्टर ने खाद्य सुरक्षा में नाम जुड़वाने के इच्छुक ग्रामीणों से कहा कि वे ऑनलाईन आवेदन करें, पात्रता के अनुसार नाम जुड़ जाएंगे। किसानों ने मिनिकिट्स वितरण में काफी लोगों के वंचित रहने की बात बताई। इस पर जिला कलक्टर ने कृषि उप निदेशक से इस बारे में जांच कराने के निर्देश दिए। गांव में आंगनवाड़ी केन्द्र क्षतिग्रस्त होने की बात कही। इस पर जिला कलक्टर ने प्रस्ताव लिए जाने को कहा।  

जिला प्रशासन हर स्तर पर गंभीर

जिला कलक्टर नमित मेहता ने विभिन्न गांवों और ढांणियों से बड़ी संख्या में आए ग्रामीणों से उनकी समस्याओं को सुना तथा आश्वस्त किया कि उनकी सभी समस्याओं और अभावों का निराकरण प्राथमिकता से किए जाने के लिए जिला प्रशासन तथा सभी विभाग कृतसंकल्पित हैं तथा इस दिशा में कहीं कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

एसडीएम ने की समझाईश

उपखण्ड अधिकारी अजय अमरावत ने रात्रि चौपाल का संचालन करते हुए क्षेत्रीय समस्याओं के बारे में प्राप्त प्रार्थना पत्रों के बारे में विभागवार जानकारी दी और ग्रामीणों से कहा कि वे सरकारी योजनाओं और कार्यक्रमों का अधिक से अधिक लाभ पाने के लिए आगे आएं। उन्होंने योजनाओं और कार्यक्रमों के बारे में स्थानीय भाषा शैली में की समझाईश की।