Jaisalmer News: कोरोना वायरस के चलते जंहा पूरे विश्व में लोगो को जान बचाने की पड़ी है वंही इंदिरा गांधी नहर परियोजना में लगे सिंचाई पटवारी नाचना में उगाही करने में लगे हुवे है. सरकार लोगो से सामाजिक दूरी रखने और रिश्तेदारों से ना मिलने को कह रहे है पर पटवारी किसानो से मिलकर उनसे पैसे मांग रहे है और पानी की बारी काटने की धमकी दे रहे है.

नाचना क्षेत्र के कई किसानो ने बताया कि एक तो पहले टिड्डी फिर बेमौसम की बारिश और ओलावृष्टि से किसान पहले ही बर्बाद हो चुके है, ऊपर से कोरोना वायरस के लॉक डाउन के चलते खेतों में खड़ी फसलें काटी नहीं जा रही है. खाने पीने के सामान और साधनों की कमी से जूझ रहे किसानों को पटवारी आंतकित कर रहे है.

नाचना के सिंचाई पटवारी कोरोना के भयावह माहौल में भी किसानों से पानी के बारी के पैसे उगाहने में लगे हुवे है और मोटरसाइकिल पे किसानो के पास उनके खेतों में जा रहे है और धमका रहे है कि अगर 31 मार्च तक पानी की बारी के पैसे नहीं भरे तो पानी की बारी काट देंगे.

इस संबध में सिंचाई पटवारियों से जानकारी मिली है कि विभाग के अधिशाषी अभियंता सुरेश खींची द्वारा वसूली का दबाव बनाया जा रहा है. वंही किसान इस सब के चलते परेशान हो रहे है.