शिवराज मंत्रिमंडल विस्तार और शपथ ग्रहण के बारे में क्या कहता है ज्योतिष?

Astrology opinion about Shivraj cabinet expansion and swearing by Pandit Dayanand Shastri.

मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) मंत्रिमंडल में आज 28 नए मंत्री शामिल हुए। भोपाल के राजभवन में प्रभारी राज्यपाल आनंदीबेन पटेल इन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। इसमें 20 लोग कैबिनेट और 8 राज्यमंत्री पद की शपथ ली।

आज (गुरुवार- 02जुलाई 2020 को) भोपाल में सुबह 11 बजे शुरू हुए शपथ ग्रहण कार्यक्रम के अनुसार उस समय सिंह लग्न ओर वृश्चिक राशि बनती हैं। पंचम भाव मे देवगुरु वृहस्पति अपनी राशि धनु में ही केतु के साथ स्थित हैं।

पंचम भाव में शनि, मकरस्थ होकर लाभ की स्थिति निर्मित कर रहे हैं। अष्टम भाव मे मंगल, मीन राशि के साथ शुभ संयोग बना रहे हैं। कर्म स्थान में शुक्र, अपनी ही राशि वृषभ मे बैठे हुए हैं।

ग्यारवे भाव मे सूर्य, बुध और राहु की युति बनी हुई हैं।

ज्योतिषाचार्य पण्डित दयानन्द शास्त्री जी ने बताया की सिंह लग्न स्थिर लग्न माना जाता हैं एवम सिंह लग्न में शपथ लेने से उस समय शपथ लेने वाले सभी मंत्री अपना कार्यकाल पूर्ण करेंगें। लगभग सवा ग्यारह बजे के बाद शपथ ली है अर्थात जिन मंत्रियों ने कन्या लग्न में शपथ ली होगी , उनके मंत्रालय भविष्य के बदल सकते हैं।

11 भाव लाभ में, सूर्य, बुध और राहु की युति अर्थात सूर्य पीड़ित हो गया राहु से । वर्तमान में वैसे भी सूर्य केतु से ग्रस्त चल रहा हैं,ग्रहण योग बना हुआ हैं जिसके कारण सूर्य का प्रभाव हो गया हैं।

पंडित दयानन्द शास्त्री जी के अनुसार आज शपथ लेने वाले सभी मंत्रियों पर बेहतरीन कार्य करने का दबाव रहेगा। विपक्ष द्वारा कई प्रकार के आरोप प्रत्यारोप लगते रहेंगें। आयु अर्थात अष्टम भाव मे मीन का मंगल होने से किसी बड़े मंत्री के साथ घटना/दुर्घटना की सम्भावना बनती हैं।अतः सावधानी बरतें।

पंडित दयानन्द शास्त्री जी के अनुसार कुल मिलाकर आज हुआ शपथ ग्रहण मिल का पत्थर साबित होगा। यह सरकार ओर मंत्रिमंडल बिना किसी परेशानी के अपना कार्यकाल पूर्ण करेगी।

इसी विषय पर छोटी सादड़ी (राजस्थान) के ज्योतिष मर्मज्ञ एवं भंवर माता मंदिर के पुजारी देवज्ञ अरविंद औदीच्य ने बताया कि राजनीतिक पार्टियों की गुलामी परस्त राजनीति के कारण भारत के हृदय स्थल मध्यप्रदेश में आज मुख्यमंत्री शिराज सिंह ने मंत्री मंडल का जो विस्तार किया उसमे उन्होंने 28 मंत्री बनाए हे यह मंत्री मंडल आगामी दिसम्बर तक कड़वे समय के साथ चलेगा।  इससे भाजपा की स्थिति मजबूत होगी लेकिन मुख्यमंत्री के निजी राजनीतिक जीवन में बड़े बदलाव की और संकेत है। उनके राजनीतिक कार्य बाहर आयेगे एवं हो सकता है । यह इस सरकार के कार्यकाल को तो पूरा करेगे लेकिन आगे मुख्यमंत्री कोई और बनेगा ।

ज्योतिरादित्य सिंधिया के बनने के पूरे योग हे जनवरी से मार्च में और सत्ता परिवर्तन के संकेत हे। हालाकि शिवराज सिंह चौहान यह कार्यकाल महाकाल की कृपा से ही पूरा करेगे क्यो की सत्ता में ग्रहण के योग निरंतर बने रहेंगे, राहु केतु इन्हे जिंदा रखेगे ।

मोबाइल पे ताजा समाचार पढ़ें फेसबुक पेज लाइक करें: ट्वीटर पे फॉलो करें: