3 drone crashed in jaisalmer

Jaisalmer News: गुरुवार सुबह चांधन फील्ड फायरिंग रेंज से वायुसेना द्वारा अभ्यास के लिए उड़ाए गए निजी कंपनी के तीन ड्रोन संपर्क से बाहर होकर लापता हो गये जो बाद में क्रैश हो गए। जिसके बाद वायुसेना के अधिकारी उसकी तलाश में जुट गए।

जैसलमेर के नाचना और मोहनगढ़ क्षेत्र में इन तीनों ड्रोन के अलग अलग जगह गिरने की खबरें मिली है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार ड्रोन का साइज फोटोग्राफी ड्रोन से काफी बड़ा है।

नाचना पुलिस थाना क्षेत्र के बाहला सरहद में 95RD JJW नहरी क्षेत्र में चंदन सिंह राजपूत के खेत (चक 8 KJM में मुरब्बा संख्या 22/5) में दोपहर 1 बजे के करीब एक ड्रोन आकर गिरा। जिसकी सूचना उसने मोहनगढ़ थाने में दी।

नाचना पुलिस ने मौके पर जाकर ड्रोन का मलबा कब्जे में लिया इसी तरह से दो अन्य ड्रोन भी मोहनगढ़ क्षेत्र में मिल गए बताए है। उड़ने की जगह से 50 से 65 किलोमीटर दूर जाकर ड्रोन गिरे है।

गौरतलब है कि निगरानी और आपदा के समय ड्रोन के इस्तेमाल हेतु सेना में ड्रोन की आवश्यकता जताई गई है और उसी के तहत निजी कंपनी के ड्रोन से सेना के जवान ट्रेनिंग कर रहे है।

गुरुवार को भी निजी कंपनी के तीन ड्रोन अभ्यास के लिए उड़ाए गए थे पर थोड़ी देर बाद कंट्रोल रूम से उनका संपर्क टूट गया।

सूत्रों के अनुसार अभ्यास के लिए उड़ाए गए ड्रोन में पेट्रोल इंजन लगा है और इस पर 6 पंखे लगे है जिसकी सहायता से ये हवा में स्थिर रहता है। इसका वजन करीब 12 किलो है। इस ड्रोन में कैमरा और अन्य सामान ले जाने की क्षमता है।

ड्रोन का परीक्षण सफल होने पर भारतीय थल सेना और वायुसेना को बड़ी संख्या में भारत सरकार ड्रोन उपलब्ध करवा सकती है।