ट्रंप-देखेंगे-ताजमहल,-भव्य-स्वागत-की-तैयारी

आगरा, 17 फरवरी (आईएएनएस)। ताजमहल के पीछे यमुना नदी का सूखी और प्रदूषित होना उत्तर प्रदेश प्रशासन के लिए सबसे बड़ी चिंता का विषय है, ैक्योंकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, उनकी पत्नी मेलानिया और प्रतिनिधिमंडल के सदस्य दुनिया के सात अजूबों में से एक इस संगमरमरी इमारत का दीदार करने आएंगे। वे 24 फरवरी को खेड़िया हवाईअड्डे पर विमान से उतरेंगे। उनके भव्य स्वागत की तैयारी चल रही है।

ट्रंप जब ताजमहल का दीदार करेंगे, तो उनका पहला संभावित सवाल हो सकता है- क्या प्रदूषण के कारण ताज पीला पड़ गया है? क्या यह नदी है या सीवेज ड्रेन?

उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार के वरिष्ठ अधिकारी ताज के बारे में सकारात्मक प्रोफाइल पेश करने और संभावित सवालों का जवाब देने की तैयारी कर रहे हैं। वे दावा करते हैं कि नदी प्रदूषण और वायु प्रदूषण की जुड़वां समस्या का समाधान किया गया है।

पिछले अनुभवों से सीख लेते हुए, विशेष रूप से तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की यात्रा को याद करते हुए, छात्रों को सड़क के दोनों ओर झंडे लहराते हुए खड़े करने का निर्णय लिया गया है।

क्लिंटन के दौरे के समय गलियों और मुख्य मॉल से होकर गुजरने वाली सड़क को सील कर दिया गया था। चारों तरफ सन्नाटा पसरा था। शायद इसलिए क्लिंटन ने आगरा को भुतहा शहर कहा था।

आधिकारिक तौर पर बताया गया है कि अति विशिष्ट अतिथि के स्वागत में स्थानीय कलाकार सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करेंगे, इसलिए कई पड़ावों पर मंच बनाए जाएंगे।

अमेरिकी खुफिया एजेंसी के कर्मियों ने राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ पहले ही कई बार बातचीत की है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि खेड़िया हवाईअड्डे के अजीत नगर गेट से ताजमहल के पूर्वी द्वार तक 5,000 से अधिक पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे।

हर एक मीटर पर एक पुलिसकर्मी को तैनात करने की योजना है। मुख्य वीआईपी सड़क का एक बड़ा हिस्सा आगरा छावनी क्षेत्र से होकर गुजरता है। मिलिट्री पुलिस सड़क के इस हिस्से पर तैनात रहेंगे।

रविवार शाम तक 3,000 से अधिक दुकानों और घरों के साखपत्र (क्रेडेंशियल) जांचे जा चुके थे। सफाई के लिए आगरा नगर निगम ने सफाईकर्मियों की फौज जुटाई है और अतिक्रमण निरोधी दस्ते में पूर्व सैनिकों को शामिल किया गया है।

ये दस्ते पिछले दो दिनों से फतेहाबाद रोड पर सभी रैंप और अतिक्रमण को ध्वस्त कर रहे हैं। सभी होर्डिग और साइन बोर्ड हटा दिए गए हैं, जिस कारण दुकादारों में गुस्सा देखा देचाा जा रहा है।

मॉल रोड पर रोड सिग्नल को फिर से रंग दिया गया है और गोल चक्करों पर मूर्तियों को साफ किया गया है। दुकानों और घरों की पुताई भी हो रही है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में 18 फरवरी को एक समीक्षा बैठक होने वाली है, जो राज्य की बेहतरीन छवि प्रस्तुत करने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है।

वीआईपी रोड पर सैकड़ों सफाई कर्मचारी कचरा हटाने में लगे हैं। यानी बड़े पैमाने पर सफाई अभियान जारी है।

वीवीआईपी फ्लीट हवाईअड्डे से होटल अमर विलास तक जाएगा जो ताजमहल के करीब है।

राष्ट्रपति के शाम 6.30 बजे के आसपास नई दिल्ली लौटने की उम्मीद है।

800 कमांडो की तैनाती के साथ एक पांच-स्तरीय सुरक्षा प्रणाली होगी।

एक वरिष्ठ जिला अधिकारी ने कहा कि जिस तरह से होटलों और गेस्ट हाउस के साथ घरों और दुकानों को सूचीबद्ध किया जा रहा है, 60 ऑड पॉइंट पर रूफ-टॉप सुरक्षा होगी।

शिल्पग्राम में वार्षिक ताज महोत्सव एक दिन के लिए बंद रहेगा।

आइजनहावर और बिल क्लिंटन के बाद, ट्रंप तीसरे अमेरिकी राष्ट्रपति होंगे जो प्रेम के प्रतीक 17वीं शताब्दी के स्मारक ताजमहल का दीदार करेंगे।

–आईएएनएस