Team Krimanshi Startup Jodhpur
Team Krimanshi Startup Jodhpur

Jodhpur News: सूर्यनगरी के लिए यह गौरव की बात है कि जोधपुर में स्थित स्टार्टअप, “क्रिमान्शी” (Krimanshi) ने THRIVE द्वारा किए गए एक अध्ययन में, पशु पालन उद्योग के लिए नवाचार(Innovation) करने वाले सर्वोच्च 95 पशु एगटेक स्टार्टअप्स ( Agtech startups ) की सूची में जगह बनाई है। 

THRIVE सिलिकॉन वैली में एक वैश्विक एग्रीफूड इनोवेशन प्लैटफॉर्म है, जो खाद्य और कृषि के भविष्य को आगे बढ़ाने के लिए उद्यमियों, निवेशकों और फॉर्च्यून 500 मैगजीन के साथ मिलकर काम करता है।

क्रिमान्शी डेयरी फीड उत्पादन में काम कर रहा है और इस क्षेत्र में अपरंपरागत फीड का नवीनीकरण करके नई सप्लाई चेन  स्थापित कर रहा है।

क्रिमान्शी पर्यावरण अनुकूल पशु आहार निर्मित कर रहा है। यह आहार, एक अनोखी तकनीक से खाद्य अवशिष्ट की पुनर्रचना करके निर्मित किया गया हैं।

कई स्तर पर पुरस्कारों से सम्मानित क्रिमान्शी को अधिशेष कृषि और खाद्य अवशेषों से निर्मित, पशुओं के लिए उच्च गुणवत्ता वाले, संतुलित, पौष्टिक एवं स्वादिष्ट आहार का उत्पादन करने पर दुनिया भर में सराहा जा रहा है।

थ्राइव से पहले, क्रिमांशी को फोर्ब्स 30 में 2018 की 30 एशियाई सूची में शामिल किया गया था और एक्सपो मिलान 2015 में अंतर्राष्ट्रीय एग्रीबिजनेस अवार्ड से सम्मानित किया गया था, इसके अतिरिक्त भी क्रिमान्शी ने कई स्तर पर प्रशंसा और सम्मान प्राप्त किए हैं।

जोधपुर में स्थापित, क्रिमान्शी पशु आहार, पूरे राजस्थान में तेजी से विस्तार कर रहा है। बेंगलुरु में एक नया प्रोसेसिंग प्लांट कि स्थापना कि गई है और कर्नाटक की इस नई ईकाई में सप्लाई शुरू कर दी गई है। 

सर्वोत्तम ग्लोबल स्टार्टअप्स की विख्यात सूची में सम्मिलित होने के इस अवसर पर, क्रिमान्शी के सीईओ निखिल बोहरा ने बताया कि “क्रिमान्शी का उद्देश्य पौष्टिक पशु आहार प्रदान करने के साथ बहुत विस्तृत है। क्रिमान्शी प्राकृतिक उच्च पौष्टिक आहार का उत्पादन करने के लिए अपरंपरागत फीड संसाधनों की नई वैल्यू चेन बनाकर भारतीय पशु आहार के निर्माण में इनोवेशन एवं क्रांति ला रहा है। हम उत्पाद स्तर पर ही नहीं बल्कि रसद और आपूर्ति में भी इनोवेशन कर रहे हैं ताकि किसानों का खर्च कम करने में और मुनाफा बढ़ाने में मदद मिल सके।‘‘

क्रिमान्शी पशु आहार के शुरुआती उपयोगकर्ताओं ने दूध की पैदावार में 20% की वृद्धि  और वसाः और SNF में भी अधिकता पायी है।

क्रिमान्शी अपने शोध द्वारा कृषि पशुओ को बेहतर पोषण प्रदान करने हेतु केंद्रित है और कम से कम लागत में ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा किसानों तक पहुंचने के लिए बड़े पैमाने पर काम कर रहा है।

क्रिमान्शी का अगला कदम मुर्गी फीड एवं मछली चारा का उत्पादन करना है और क्रिमान्शी टीम इसी प्रयास में कार्यरत है।