Saleh Mohmmad Wish Hairvallabh Kalla for victory in chairman election

जैसलमेर शहर में सभापति पद को लेकर चल रही उठापठक में निर्दलीय हरिवल्लभ कल्ला ने आज भाजपा के विक्रम सिंह व कांग्रेस के कमलेश छंगाणी को हराकर बने सभापति की सीट पर कब्ज़ा जमाया।

जैसलमेर नगरपरिषद सभापति पद पर आज कांग्रेस उम्मीदवार के तौर पर निर्विरोध पार्षद चुनकर आए हरिवल्लभ कल्ला ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में सभापति की सीट को अपने कब्जे में जमा लिया है।

hari vallabh kalla sabhapati nagar parishad jaisalmer


कांग्रेस से बागी होकर निर्दलीय सभापति का पर्चा दाखिल कर चर्चा में आए कांग्रेस के पूर्व विधायक स्व. गोवर्धन कल्ला के भतीजे हरिवल्लभ कल्ला ने आज 19 मत लाकर अपनी जीत पक्की की। वहीं बीजेपी उम्मीदवार विक्रमसिंह को 12 व कांग्रेस उम्मीदवार कमलेश छंगाणी को 13 मत मिले। इसमें एक मत खारिज हो गया।

गौरतलब है कि निर्विरोध निर्वाचित हुए हरिवल्लभ कल्ला को जब कांग्रेस ने सभापति का उम्मीदवार नहीं बनाया तो वे निर्दलीय ही खड़े हो गए।

कांग्रेस के पोकरण विधायक सालेह मोहम्मद गुट ने उनको समर्थन देकर सेंधमारी शुरू की जिससे कांग्रेस में दो गुट बन गए। एक गुट विधायक रुपाराम का जो कांग्रेस उम्मीदवार को जिताने में लगा था वही एक धड़ा निर्दलीय को जिताने में।

जिससे कांग्रेस में दो फाड़ हो गए। वहीं बीजेपी इन दोनों की लड़ाई में 20 सीटों के साथ खुद को विजयी मान रही थी। मगर आज निर्दलीय ने तगड़ा दांव मारकर बीजेपी व कांग्रेस के मतों को अपने पक्ष में करते हुए 19 मतों के साथ अपनीं जीत दर्ज की।

हरिवल्लभ कल्ला बने जैसलमेर नगर परिषद सभापति 1


हरिवल्लभ कल्ला ने जीत के बाद मुस्लिम धर्मगुरु ग़ाज़ी फकीर के घर जाकर उनका आशीर्वाद लिया। वहीं कैबिनेट मंत्री सालेह मोहम्मद ने भी उनको जीत की बधाई दी।