Jaisalmer news : भारतीय सेना की सुदर्शन चक्र वाहिनी की ओर से सीमावर्ती जैसलमेर जिले की फील्ड फायरिंग रेंज में मारक क्षमता का प्रदर्शन किया जा रहा है। जिसमें सेना आज अग्नि और युद्धाभ्यास से जुड़े अभ्यास के साथ गोलाबारी क्षमताओं का एकीकृत प्रदर्शन कर रही है।

युद्धाभ्यास के मुख्य अतिथि सेना की दक्षिणी कमांड के लेफ्टिनेंट जनरल एस.के. सैनी है। इस अभ्यास में आर्टिलरी, आर्म्ड  और मैकेनाइज्ड फोर्सेज, आर्मी एयर डिफेंस, आर्मी एविएशन के प्रहारक अटैक हेलिकॉप्टर्स, तथा एयरफोर्स संसाधनों के साथ स्पेशल फोर्सेस के बीच सहज तालमेल का प्रदर्शन किया जा रहा है।

रक्षा प्रवक्ता कर्नल संबित घोष ने बताया कि रेगिस्तानी भूभाग में 48 घंटे तक चलने वाले इस अभ्यास में भारतीय सेना की क्षमता, कौशल और परिचालन संबंधी तैयारियों का प्रदर्शन हो रहा है। अभ्यास का मुख्य आकर्षण संयुक्त हथियार सामंजस्य, कई रॉकेट लॉन्च सिस्टम के एकीकृत प्रदर्शन, नव प्रवर्तित सेल्फ प्रोपेल्ड आर्टिलरी गन सिस्टम के-9 वज्र और स्वदेशी एडवांस लाइट हेलिकॉप्टर ‘रुद्र’ का प्रदर्शन है।

जैसलमेर का नंबर #1 समाचार पोर्टल: The Jaisalmer News