भीमा कोरेगांव : एनआईए का हनी बाबू के नोएडा स्थित आवास पर छापा

भीमा-कोरेगांव-:-एनआईए-का-हनी-बाबू-के-नोएडा-स्थित-आवास-पर-छापा

नई दिल्ली, 2 अगस्त (आईएएनएस)। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने रविवार को भीमा कोरेगांव एल्गार परिषद मामले में राष्ट्रीय राजधानी से सटे उत्तर प्रदेश के नोएडा में एक आरोपी के आवासीय परिसर में तलाशी ली।

एनआईए ने कहा कि डीयू के प्रोफेसर हनी बाबू मुसलीयारवेटिल थारायिल के घर पर छापे मारे गए हैं, जिन्हें नक्सली गतिविधियों और विचारधारा का प्रचार करने वाले अन्य आरोपी व्यक्तियों के साथ सह-साजिशकर्ता पाया गया था।

इसके अलावा जांच से यह भी पता चला कि आरोपी हनी बाबू कांग्केपिक कम्युनिस्ट पार्टी (एमसी) के सूचना एवं प्रचार सैन्य मामलों के सचिव पखोम्बा मीतेई के संपर्क में थे, जो कि गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम के तहत प्रतिबंधित संगठन है।

सीपीआई (माओवादी) के महासचिव गणपति का एक साक्षात्कार, शेख बाबू के साथ आरोपी हनी बाबू द्वारा साझा किया गया था। एनआईए ने कहा, मणिपुर के अन्य नक्सलियों के साथ हनी बाबू के संचार का भी पता लगाया गया है।

जांच से यह भी पता चला है कि सीपीआई (माओवादी) के नेता पल्लथ गोविंदंकुट्टी की रिहाई के बाद हनी बाबू ने सह-आरोपी रोना विल्सन के साथ धन जुटाकर उनकी आर्थिक मदद करने की पहल की।

उल्लेखनीय है कि भीमा कोरेगावं एल्गार परिषद मामले में पुलिस ने हनी बाबू को पिछले महीने ही गिरफ्तार किया था। वह फिलहाल एनआईए की हिरासत में हैं। प्रोफेसर हनी बाबू पर भीमा कोरेगांव मामले में नक्सली गतिविधियों और माओवादी विचारधारा को बढ़ावा देने का आरोप है। इसी आरोप में दिल्ली यूनिवर्सिटी के पूर्व प्रोफेसर साईं बाबा उम्रकैद की सजा काट रहे हैं।

–आईएएनएस

मोबाइल पे ताजा समाचार पढ़ें फेसबुक पेज लाइक करें: ट्वीटर पे फॉलो करें: