Kota News: कोटा जिले में चंबल नदी में बुधवार सुबह तड़के करीब 40 तीर्थयात्रियों को ले जा रही नाव पलटने की जानकारी सामने आई है। 11 लोगो के शव मिल गए है जबकि घटना के बाद से 3 लोग लापता हैं।

स्थानीय प्रशासन, ग्रामीण और पुलिस टीम बचाव अभियान में जुटी है। बचाव कार्य में तेजी लाने के लिए राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) की टीम भी वहां पहुंची है।

जिला कलेक्टर उज्जवल सिंह राठौड़ ने कहा कि गोठड़ा कलां के करीब तीन दर्जन ग्रामीण चंबल नदी के उस पार कमलेश्वर धाम जा रहे थे, इसी दौरान खतोली के पास नाव पलट गई।

राठौड़ ने कहा कि उनमें से कुछ लोग तैरकर किनारे आने में कामयाब रहे, लेकिन 14 लोगों के लापता होने की खबर है। बाद में 11 लोगो के शवतलाश लिए गए.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने घटना पर शोक व्यक्त किया है।

उन्होंने ट्वीट में कहा, कोटा में थाना के खतोली क्षेत्र में चंबल ढिबरी के पास नाव के पलटने की घटना बहुत ही दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण है। पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना।

उन्होंने आगे कहा, मुद्दे पर अपडेट जानने के लिए मैंने कोटा प्रशासन से बात की है। साथ ही अधिकारियों को तत्काल राहत और बचाव कार्यों के साथ लापता लोगों का पता लगाने के निर्देश दिए हैं। स्थानीय पुलिस और प्रशासन घटनास्थल पर मौजूद हैं। प्रभावित परिवारों को मुख्यमंत्री राहत कोष से मदद मिलेगी।

–आईएएनएस

एमएनएस-एसकेपी