Nachna Upniveshan Vibhag Office

Jaisalmer News: जैसलमेर जिले की नाचना उपनिवेशन तहसील में करीब तीन वर्ष पूर्व हुवे करीब 40 हजार बीघा जमीन घोटाले में अब लाभार्थियों तक आंच आने लगी है। मामले के मुख्य अभियुक्त तत्कालीन डीसी अरुण प्रकाश शर्मा और पीए सुवालाल अब तक फरारी काट रहे है।

2014 से 2016 के बीच ये खेल खेला गया था, जिसमें फर्जी तवान रसीद और 4 नंबर सूची में हेराफेरी कर जमीनों की जगह बदलकर कर डिक्री जारी की गई थी।

फर्जीवाड़े के इस खेल में डीसी,तहसीलदार,पटवारियों के अलावा तत्कालीन विधायक शैतानसिंह से जुड़े लोग भी शामिल थे। फर्जी गवाहों और पटवारियों द्वारा फर्जी बयान कर लाभार्थियों का कब्जा दर्शाया गया था।

80 फ़ाइल खारिज होने के साथ ही ये पक्का हो गया है कि नियम विरुद्ध जमीन दी गयी थी। अब एसीबी तथा उपनिवेशन विभाग द्वारा लाभार्थियों पर कूट रचित दस्तावेजो के गठन से सरकारी भूमि हड़पने के मामले में कानूनी कार्यवाही की जा सकती है।