Ramdevra / Jaisalmer News। रामदेवरा के राजीव गांधी कुष्ठ कॉलोनी में सूरत इलाज के लिये गई बुजुर्ग महिला के वापस लौट कर रामदेवरा आने के कुछ समय बाद ही घर में होम क्वारंटीन के दौरान मौत हो जाने पर चिकित्सा विभाग ने मृतक महिला के सैंपल लिये। मृतक महिला के पुत्र द्वारा मां के सूरत से उसके साथ आने की जानकारी लवा चैक पोस्ट चौकी पर छिपाये जाने की बात सामने आ रही हैं।

दफनाने के दौरान मौजूद रहे 34 लोगों के सैम्पल भी लिए जाने हैं। रामदेवरा ग्राम पंचायत के चुनाव के बाद करीब 16 मार्च को युवक और उसकी मां अपने ईलाज के लिए सूरत गए थे और वहां पर लॉक डाउन होने के कारण किसी रिश्तेदार के घर रूके। फिर प्रशासन से अनुमति लेने के बाद रविवार को रामदेवरा पहुंचे। घर पहुचने के कुछ समय बाद ही उसकी मां की मृत्यु हो गई। रामदेवरा चिकित्सा विभाग की टीम को सूचना मिलने पर पूरी टीम मौके पर पहुंची ।

रहमतुल्लाह मेहर सर्वे अधिकारी रामदेवरा का कहना है कि हमे कॉलोनी के युवक ने अकेले ही सूरत से आने की जानकारी दी थी। बाद में पता चला कि सूरत से युवक के साथ उसकी मां भी थी। जिनकी आज मृत्यु हो गई। चिकित्सा विभाग ने सैंपल जांच के लिये भेजे हैं। सभी कॉलोनी निवासियों को घरों में ही रहने को कहा है।

55 दिन बाद अपने घर लौटे थे मां और बेटा


रामदेवरा ग्राम पंचायत के चुनाव के बाद करीब 16 मार्च को सुरेश और उसकी मां अपने इलाज के लिए सूरत गए थे। लाॅकडाउन होने के कारण किसी रिश्तेदार के वहां पर रुके और अनुमती लेने के बाद रविवार को रामदेवरा पहुंचे। इस दौरान सुरेश की मां की मृत्यु हो गई।

रामदेवरा चिकित्सालय प्रभारी डाॅ. डूंगरसिंह ने शक के आधार पर पोकरण से कोरोना जांच से संबंधित अधिकारियों को सूचित किया और शव को दफनाने से रोका। जांच टीम के द्वारा रामदेवरा पहुंच की मृतक के सैंपल लेने के बाद मृतक का अंतिम संस्कार किया गया। इस घटना में मृतक को दफनाने साथ में आए लोगों को भी पुलिस और प्रशासन ने घर में रुकने को कहा और चिकित्सा विभाग की टीम के द्वारा सभी के सैंपल लेने के लिए भी कहा गया।