एयर इंडिया के पायलटों ने कहा, छुट्टी के दिन या उड़ान से पहले न हो कोरोना परीक्षण

एयर-इंडिया-के-पायलटों-ने-कहा,-छुट्टी-के-दिन-या-उड़ान-से-पहले-न-हो-कोरोना-परीक्षण

नई दिल्ली, 30 दिसंबर । एयर इंडिया पायलटों के एसोसिशन ने अपने सदस्यों को फ्लाइट से पहले कोरोना परीक्षणों सहित साप्ताहिक अवकाश और आराम अवधि के दौरान किसी भी ड्यूटी को स्वीकार नहीं करने को कहा है।

इंडियन पायलेट गिल्ड एंड इंडियन कमर्शियल पायलट एसोसिएशन ने एयर इंडिया के कार्यकारी निदेशक (संचालन), कैप्टन आर. एस. संधू को इस संबंध में एक पत्र लिखा है।

पत्र में एसोसिशन ने कहा है, यह हमारे ध्यान में लाया गया है कि पायलटों के लिए उनके साप्ताहिक अवकाश (वीक ऑफ) या उड़ान के बाद आराम की अवधि (रेस्ट पीरियड) के दौरान अक्सर कोरोना परीक्षणों की योजना बनाई जा रही है। जैसा कि आप जानते हैं, किसी भी कार्य को करने के लिए ऑपरेटर द्वारा उड़ान चालक दल के सदस्यों की आवश्यकता होती है.. डीजीसीए एफडीटीएल कार में ड्यूटी के रूप में और वर्तमान एयर इंडिया फ्लाइट क्रू एफडीटीएल योजना के लिए स्पष्ट रूप से परिभाषित किया गया है। इसलिए यह प्रथा एक बड़े उल्लंघन का प्रतिनिधित्व करती है और इसे तुरंत बंद कर देना चाहिए।

पत्र में छुट्टी के दिन इस तरह की किसी भी प्रक्रिया का पालन नहीं करने पर जोर देते हुए एसोसिएशन ने कहा, हम आपसे अनुरोध करते हैं कि एयर इंडिया एफडीटीएल योजना का सख्ती से पालन करने के लिए संबंधित विभागों को सूचित करें और निर्बाध आराम का उल्लंघन न करें। हम तदनुसार अपने सदस्यों को सख्त अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित कर रहे हैं, अर्थात साप्ताहिक अवकाश और आराम अवधि के दौरान किसी भी ड्यूटी को स्वीकार नहीं करना इसमें शामिल है। इसमें प्रीफ्लाइट (उड़ान से पहले) Covid परीक्षण भी शामिल है।

–आईएएनएस

एकेके-एसकेपी