दिल्ली : 18 जनवरी से स्कूल जा सकेंगे 10वीं, 12वीं कक्षा के छात्र

दिल्ली-:-18-जनवरी-से-स्कूल-जा-सकेंगे-10वीं,-12वीं-कक्षा-के-छात्र

नई दिल्ली, 13 जनवरी । दिल्ली में दसवीं और बारहवीं कक्षा के छात्र 18 जनवरी से स्कूल जा सकेंगे। दिल्ली सरकार ने इस विषय पर बुधवार को एक सकरुलर जारी किया। 10वीं एवं 12वीं कक्षा के छात्रों को इस दौरान बोर्ड परीक्षा के प्रोजेक्ट्स, प्रैक्टिकल और काउंसलिंग में शिक्षकों की सहायता उपलब्ध कराई जाएगी।

इस सकरुलर के मुताबिक स्कूलों में केवल 10वीं और 12वीं के छात्रों को ही बुलाया जा सकता है। इसके लिए भी पेरेंट्स की लिखित परमिशन जरूरी होगी। कंटेनमेंट जोन में स्कूल नहीं खुलेंगे। कंटेनमेंट जोन में रहने वाले छात्र, अध्यापक व अन्य व्यक्ति स्कूल नहीं जाएंगे।

दिल्ली सरकार ने स्कूलों के लिए एक स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर भी तैयार किया है। स्कूलों के लिए इस स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर का पालन करना अनिवार्य होगा। स्कूलों को यह रिकॉर्ड रखना होगा कि कितने बच्चे स्कूल आ रहे हैं। हालांकि यह रिकॉर्ड छात्रों की अटेंडेंस के तौर पर इस्तेमाल नहीं होगा।

इस विषय पर जानकारी देते हुए दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा, दिल्ली में सीबीएसई बोर्ड परीक्षाओं व प्रैक्टिकल के मद्देनजर 10वीं और 12वीं क्लास के लिए 18 जनवरी से प्रैक्टिकल, प्रोजेक्ट, काउंसिलिंग आदि के लिए स्कूल खोलने की अनुमति दी जा रही है। अभिभावकों की सहमति से ही बच्चों को बुलाया जा सकेगा। बच्चों को आने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा।

10वीं और 12वीं कक्षा की सीबीएसई बोर्ड परीक्षाएं इस बार मई महीने में शुरू होंगी। बोर्ड परीक्षाएं 4 मई से शुरू होकर 10 जून तक चलेगी। बोर्ड परीक्षाओं का रिजल्ट 15 जुलाई तक घोषित कर दिया जाएगा।

दिल्ली सरकार के मुताबिक कोरोना के लक्षण वाले किसी भी छात्र, अध्यापक अथवा स्कूल स्टाफ को विद्यालय में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। स्कूलों के एंट्री गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। स्कूलों के मुख्यद्वार, क्लासरूम, लैब्स आदि स्थानों पर हैंड सैनिटाइजेशन का इंतजाम करना होगा।

सीबीएसई द्वारा तय कार्यक्रम में 12वीं के प्रैक्टिकल्स और इंटरनल असेंसमेंट्स 1 मार्च से होंगे। वहीं प्री बोर्ड 20 मार्च से 15 अप्रैल के बीच लिए जा सकते हैं। 10वीं के प्री बोर्ड 1 से 15 अप्रैल के बीच कराए जा सकते हैं।

–आईएएनएस

जीसीबी-एसकेपी