आस्ट्रेलिया ने माना स्मिथ और मार्नस को भारतीय रणनीति से हो रही है परेशानी

आस्ट्रेलिया-ने-माना-स्मिथ-और-मार्नस-को-भारतीय-रणनीति-से-हो-रही-है-परेशानी

मेलबर्न, 31 दिसंबर । भारतीय टीम ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज के शुरुआती दो टेस्ट मैचों में आस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ और मार्नस लाबुशैन को हाथ खोलने के ज्यादा मौके नहीं दिए और लेग स्टम्प पर गेंद डालने की रणनीति से इन दोनों को अभी तक बांधे रखा है। आस्ट्रेलियाई टीम प्रबंधन ने भी इस बात को माना है कि स्मिथ और लाबुशैन संघर्ष कर रहे हैं।

आस्ट्रेलिया के सहायक कोच एंड्रयू मैक्डोनाल्ड ने गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए कहा, मैं स्मिथ पर कोई भी राय बनाने में जल्दबाजी नहीं करूंगा। हां, यह सच है कि वह इस सीरीज में अभी तक चले नहीं हैं। बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में शुरुआती चार गेंदें जो उन्होंने खेली थीं उनमें काफी मजबूत दिख रहे थे। नेट्स पर भी वह शानदार बल्लेबाजी कर रहे थे।

उन्होंने कहा, भारत ने जिस तरह से रणनीति बनाई है और इन दो खिलाड़ियों को जिस तरह से काबू किया है, खासकर लेग साइड थ्योरी के साथ, इस समय मेरे लिए यह सवाल है। मुझे लगता है कि इन दोनों खिलाड़ियों को कुछ बेहतर करना होगा। मुझे नहीं लगता कि यह तकनीक का मुद्दा है। वह तकनीकी तौर पर अच्छी स्थिति में हैं। लेकिन यह ज्यादा रन करने की बात है और वह किस तरह से इन रणनीतियों से बाहर निकलते हैं, इस पर हम बात कर रहे हैं।

दूसरा टेस्ट मैच चार दिन में ही खत्म हो गया था और पांचवें दिन दोनों बल्लेबाज नेट्स पर इस रणनीति से पार पाने का अभ्यास कर रहे थे।

आस्ट्रेलिया के सहायक कोच ने कहा कि लगातार फील्डिंग बदलने से बल्लेबाज असमंजस में पड़ जाता है।

मैक्डोनाल्ड ने कहा, हम नेट्स पर इस पर काम कर रहे हैं। टेस्ट मैच का जो पांचवां दिन होता, उस दिन हम नेट्स पर मेहनत कर रहे थे। इस पर चर्चा चल रही है। यह किसी एक चीज को लेकर नहीं होगा। उनकी रणनीति लगातार बदलती रहती हैं। कई बार वह दो खिलाड़ी रखते हैं, कई बार वह लेग गली रखते हैं। कई बार वह बॉक्स मिडविकेट के साथ जाते हैं। हमने स्मिथ और लाबुशैन से कहा कि वह इन चीजों को पढ़ें।

मैक्डोनाल्ड ने कहा कि वह पहले दिन एमसीजी की पिच को देखकर हैरान रह गए थे जो स्पिनरों की मदद कर रही थी।

उन्होंने कहा, हम सभी को जिस एक चीज ने हैरान किया वो पहले दिन बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच की विकेट थी। हम उम्मीद नहीं कर रहे थे कि विकेट स्पिन लेगी और पहले ही दिन एमसीजी में बड़ा योगदान निभाएगी। पिच के मुख्य हिस्से से वो ज्यादा बाउंस और स्पिन ले रही थी।

–आईएएनएस

एकेयू-एसकेपी