Jaisalmer News। जिला कलक्टर नमित मेहता के निर्देशानुसार जिले में पेयजल व्यवस्था के सुधार के लिए किए जा रहे प्रयासो के तहत आज गांव छत्रेल मे नलकूप का निर्माण कराया गया। जिससे पेयजल के क्षेत्र में इस जिले को एक बहुत बड़ी नई सौगात मिली है।

प्रभारी भू जल वैज्ञानिक भू जल विभाग जैसलमेर डॉ.एन.डी.इणखिया द्वारा मरुस्थ्ज्ञलीय जैसलेर जिले के छत्रेल गाव के बीच मे बहने वाले नदी क्षैत्र मे नलकूप के लिए स्थल चयन कर नलकूप की खुदाई्र शुरु कराई गई। जो छ सो फीट की गहराई तक खुदवाए गए इस नलकूप मे पीने योग्य पानी मिलने से गाव मे खुशी की लहर छा गई।

ग्रामीणजनों ने नलकूप के लिए केबीनेट मंत्री, अल्प संख्यक मामलात सालेह मोहम्मद विधायक रुपाराम धणदै व जिला कलक्टर नमित मेहता का तहेदिल से बेहद आभार जताया। पानी मिलने पर गाव मे मिठाई बांटी जाकर अत्यंत प्रसन्नता जाहिर की गई।

छत्रेल गांव मे 600 फीट पर मिला पीने योग्य शुद्ध पानी, पेयजल के क्षेत्र में मिली एक बहुत बड़ी सौगात 1

जन स्वास्थ्य अभियात्रिक विभाग के अधिशासी अभियन्ता रविन्द्र पाल सिह ने बताया की छत्रेल वर्षो से पेयजल समस्या ग्रस्त था। यहा गाव चूधी से पाइप लाइन से पानी की आपूर्ति होती थी लेकिन आए रोज पानी की समस्या रहती थी।

अभाव स्थिति मे खुदवाए गए इस नलकूप से इस गाव की पेयजल समस्या का स्थाई सामाधान सम्भव हो गया है। नलकूप को शीघ्र प्रारम्भ कर पेयजल उपलब्ध करा दिया जाएगा। यहा स्त्रोत मिलने से छत्रेल की पेयजल समस्या का सामाधान होने के साथ चंूधी से जुडे गाव व ढाणियो को पेयजल समस्या से भी निजात मिलेगी ।

प्रभारी भू जल वैज्ञानिक भू जल विभाग जैसलमेर डॉ.एन.डी.इणखिया ने बताया की पानी के लिए अब तक नोन पोटेन्शिल माने जा रहे छत्रेल गाव मे विस्तृत सर्वे के बाद नलकूप खोदा गया है ,जो बहुत बड़ी उपलब्धी है। उल्लेखनीय है कि छः सो फीट खुदे इस नलकूप मे जल स्तर चालीस मीटर के पास है। पानी मी गुणवता पीने योग्य व पशु पेयजल के लिए उपयुक्त है। इस नए स्त्रोत के मिल जाने से आसपास के क्षैत्र मे भी नए स्त्रोत ढूढने मे मदद मिलेगी तथा पेयजल समस्या के स्थाई सामाधन मे सफलता मिलेगी ।

जैसलमेर जिले की ब्रेकिंग न्यूज़, ताजा समाचार व खबर यंहा पढ़ें : Jaisalmer News

अपनी तहसील चुनें : जैसलमेर | पोकरण | रामदेवरा | नाचना | मोहनगढ़ | नोख | रामगढ | भनियाणा | फतेहगढ़ |